पश्चिमी चम्पारणबिहार

महिला मुक्ति दिवस पर जयंती मना याद की गई ज्योति सावित्रीबाई फुले : धर्मेंद्र सराफ

बेतिया(प.च)।

बेतिया मझौलिया प्रखंड क्षेत्र के आदर्श मध्य विद्यालय पारस पकड़ी की सभा कक्ष में भारत के प्रथम महिला शिक्षिका एवं मराठी कब यंत्री ज्योति सावित्रीबाई फुले चित्र पर माल्यार्पण कर प्रधानाध्यापक रामाशंकर सिंह ने श्रद्धा सुमन याद किया एवं विद्यालय के सभी शिक्षक शिक्षिका बारी बारी से श्रद्धा सुमन अर्पित कर याद किए और प्रकाश डालें वही राजकीय मध्य विद्यालय बरवा के सभाकक्ष मे प्रधानाध्यापक शंकर साह एवं प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला सचिव नवोदय ठाकुर सीआरसीसी महमूद आलम ने भारत की प्रथम महिला शिक्षिका ज्योति राव फूले चित्र पर फूल माला चढ़ाकर सदा सुमन याद किए शिक्षक नेता नवोदय ठाकुर शिक्षकों को संबोधित करते हुए बताएं कि पूर्व शिक्षिका फुल की जयंती 3 जनवरी 1831 एवं 10 मार्च अट्ठारह सौ 97 को हम लोग याद करते हैं उनके द्वारा किए गए कार्यों पर चलने का प्रेरणा लेना चाहिए की और उन्होंने बताया कि भारत के प्रथम महिला शिक्षिका समाज की ज्योति थी जो समाज के विभिन्न कुरीतियों को दूर कर आते हुए समाज के हर तबके की महिलाओं के साथ सबका सब का उठान करने वाली और महिलाओं को समाजवादी विचारों से समाज के विकास के लिए आखिरी तक लगी रही आजीवन वही आदर्श मध्य विद्यालय पारस पकड़ी की प्रधानाध्यापक रामाशंकर सिंह ने प्रकाश डालते हुए बताएं की महिला अब महिला नहीं रही है समाज की हर विकास में महिलाओं का सहयोग सराहनीय रहा है समाज के हर तबके के विकास के लिए सबका सहयोग से ही विकास संभव है वही महिला शिक्षिका नूतन ठाकुर बताई की समाज की हर तबके की कुरीतियों को दूर करना प्रकाश डालना हम लोगों कर्तव्य ऐसा करने से ही होगा समाज का सुधार मौके पर सहायक शिक्षिका प्रमिला सिंह रूपम कुमारी माला कुमारी रानी कुमारी नीलम सैनी सविता कुमारी पिंकी कुमारी एवं शिक्षक मनोज मिश्रा मनोज कुमार शंभू चौरसिया घनश्याम तिवारी सनोज कुमार जियाउर रहमान शेख फारुख अमित राम मनोज कुमार भगत मोहम्मद सोहेल आदि शिक्षक मौजूद रहे