पश्चिमी चम्पारणबिहार

नही रहे नामचीन शायर डॉक्टर खुर्शीद अनवर।

बगहा(प.च)।

बगहा के मशहूर शायर डॉ खुर्शीद अनवर की मृत्यु अचानक हार्ट अटैक होने से उनके निवास स्थान बगहा में हो गई बताते चलें कि वे 61 वर्ष के थे पटना हज भवन के क्लर्क रह चुके डॉ खुर्शीद अनवर राजभाषा के सदस्य भी थे साथ ही साथ अनेकों बार अपने शायरी और उर्दू जबान की पहचान को लेकर पूरे बिहार में एक अलग अपनी पहचान बनाने वाले और सब के दिलों पर राज करने वाले डॉ खुर्शीद अनवर अवार्ड से भी सम्मानित हो चुके हैं अचानक उनके मौत की खबर मिलते ही बगहा के लोगों में एक मायूसी सी छा गई है हर वेक्ति उनके अंदाज़ और उनके शायरी के साथ साथ उनके सादगी को याद कर रहा है बताते चलेंकी डॉक्टर खुर्शीद अनवर अपने पीछे 2 पुत्र दो पुत्री के साथ साथ एक भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं उनके मृत्यु से लोगों में बगहा के साथ साथ पूरे बिहार और उनको जानने वाले अन्य राजय के लोगों में एक शोक की लहर दौड़ गई है कवि और शायरों में नामचीन शायर रह चुके डॉ खुर्शीद अनवर के मृत्व समाज और शायरों के साथ साथ कवियों के बीच अपने आप मे एक मिसाल थे डॉक्टर खुर्शीद अनवर