पश्चिमी चम्पारणबिहार

बाघिन के रेस्कयू से जंगल से सटे गांवों में रहने वाले लोगों ने ली राहत की सांस।

मैनाटांड़ से संवाददाता पंकज कुमार 

तीन लोगों को मार देने के बाद बाघिन को आखिरकार गुरुवार के दिन मानपुर वन कार्यालय के समीप से रेस्क्यू कर लिया गया । बाघिन को रेस्क्यू करने वाली टीम के कर्मियों के द्वारा टेकुलाइजर गन से बाघिन को बेहोश करने के बाद बाघिन को मानपुर वन कार्यालय लाया गया ।इधर बाघिन के पकड़े जाने के बाद जंगल से सटे मानपुर, पुरैनिया, चक्रसन, गम्हरिया पड़रिया आदि गांव के लोगों ने राहत की सांस ली है ।बाघिन के पकड़े जाने की खबर सुनते ही सैकड़ों लोग मानपुर वन कार्यालय के समीप पहुंच गये। ग्रामीण मुकेश कुमार जाकिर गद्दी, विजय महतो, पप्पू यादव आदि ने बताया कि बाघिन पकड़े जाने के बाद हम सभी ग्रामीणों को राहत की सांस मिली है। आखिरकार बाघिन पकड़ी गई। अगर नहीं पकड़ी जाती तो स्थिति हो सकती थी।वन विभाग को सफलता मिलने से ग्रामीणों की जान बची।